1 अक्टूबर से सस्ती हो जायेगी आपकी कॉल दरें जाने कैसे

 

मोबाइल उपभोक्ताओं के लिए बहुत ही अच्छी खबर आई है। आगामी 1 अक्टूबर से मोबाइल पर बात करना काफी सस्ता हो जाएगा। दरअसल, टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी ट्राई ने मोबाइल कॉलिंग पर लगने वाले चार्ज को हटा दिया है। इसकी वजह से आपके मोबाइल बिल में जल्दी कमी दिखने वाली है। आगामी 1 अक्टूबर से ट्राई ने अपनी दर को कम करते हुए 14 पैसे प्रति मिनट से घटाकर 6 पैसे प्रति मिनट आईयूसी करने का फैसला लिया है। वही इसे 1 जनवरी 2020 से पूरी तरह खत्म कर दिया जाएगा। यानी आपकी कॉल आईयूसी मुक्त हो जाएगी। माना जा रहा है कि जल्दी ट्राई के इस फैसले से टेलीफोन उपभोक्ताओं के दिलों में कमी आ सकती है।

हालांकि रिलायंस कंपनी के जियो 4जी लांच होने के बाद मोबाइल कॉल की दरों में काफी कमी देखी गई है। लेकिन जियो से हटकर अन्य टेलीकॉम कंपनियों के उपभोक्ताओं को ट्राई के इस फैसले का लाभ मिलेगा। दरअसल, आईयूसी एक ऐसा चार्ज है जिसके तहत सर्विस प्रोवाइडर कंपनी अपने उपभोक्ताओं के लिए दूसरे नेटवर्क पर किसी कॉल को लिंक करने के बदले में चुकाता है। ट्राई द्वारा आईयूसी कम किए जाने के बाद इसका सबसे ज्यादा फायदा रिलायंस जियो को मिलेगा।

आपको बता दें कि ट्राई के इस फैसले से एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया जैसी सेलुलर कंपनी को बहुत बड़ा झटका लगा है। भारती एयरटेल समेत कई मोबाइल ऑपरेटरों ने ट्राई के इस फैसले का विरोध किया था। दरअसल, इन ऑपरेटरों का कहना था कि इस रेट को और बढ़ाना चाहिए। इसे वास्तविक लागत के हिसाब से वसूलना चाहिए। कंपनियों का सुझाव था कि आईयूसी 35 से 40 पैसे प्रति मिनट करना चाहिए। जबकि ट्राई ने आईयूसी चार्ज कम करते हुए 2020 तक इसे खत्म करने का फैसला लिया है।

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment