200 रुपये के नोट को आरबीआई ने दी मंजूरी, इसकी नकल करना नामुमकिन

 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक के सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने ₹200 के नोट छापने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। आपको बता दें कि कालेधन और भ्रष्टाचार से निजात पाने के लिए PM मोदी ने नोटबंदी का ऐलान किया था। 500 और 1000 के नोट बंद कर दो हजार के नए नोट पेश किये। कहा यह जा रहा था, इसमें इस्तेमाल हुआ कागज और सिक्योरिटी फीचर्स कितने तकड़े हैं की इन की नकल करना बहुत मुश्किल है। लेकिन हाल ही में भारत के कई स्थानों से 2000 और 500 के नकली नोट बरामद किए गए। नकल से बचने के लिए ₹200 के नोट में नए सिक्योरिटी फीचर्स होंगे ताकि इस की नकल करना नामुमकिन हो।

 

मीडिया में आई जानकारी के अनुसार आरबीआई के मुद्रा विभाग से जुड़े सूत्रों ने बताया ₹200 के नोट छापने की तैयारी चल रही है हालाँकि जब तक केंद्र सरकार इस नोटिफाइड नहीं करती, तब तक इनके डाई बनाने का काम शुरु नहीं होगा। इसलिए फिलहाल आरबीआई सरकार के नोटिफिकेशन के बाद 200 के नए नोट लाने की अपनी योजना पर काम शुरु करेगी।

 

नकली नोटों की समस्या से निजात पाने के लिए सरकार 500 और ₹2000 के नोटों में सुरक्षा फीचर्स को हर 3-4 साल में बदलाव करने का सोच रही है। जानकारी के अनुसार इस मुद्दे पर राजधानी दिल्ली में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई थी जिसमें केंद्रीय गृह सचिव महर्षि सहित वित्त मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे। सुझाव का समर्थन करते हुए गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि ज्यादातर विकसित देश अपने करेंसी नोट में सुरक्षा फीचर्स हर तीन चार साल में बदल देते हैं। भारत को भी इस नीति का पालन करना चाहिए। आपको बता दें कि भारत में वर्ष 2000 में ₹1000 के नोट पेश किया गया था। तब से लेकर नोटबंदी तक उसमें कोई बदलाव नहीं हुआ वहीं 1987 में ₹500 का नोट पेश किया गया जिसमें करीबन एक दशक पहले बदलाव हुआ।

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment