ये ड्रोन की एक साथ कई ब्लड सैंपल लैबोरेटरी पहुचायेगा

 

बीमारी में डॉक्टर सबसे पहले तरह-तरह की जांच करवाने की सलाह देते है जिससे बड़ी से बड़ी बीमारी को समय पर पकड़ा जा सके। ऐसे में ब्लड टेस्ट करवाना बीमार इंसान के लिए बेहद जरूरी है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए मैरीलैंड की प्राइवेट यूनिवर्सिटी जॉन हॉपकिंस के वैज्ञानिकों ने ब्लड टेस्ट के लिए लेबोरेटरी तक बीमार इंसान का ब्लड पहुंचाने के लिए ड्रोन की सहायता लेकर सबसे कम समय में ब्लड टेस्ट करवाने का नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। बताया जा रहा है कि वैज्ञानिकों ने लैटीट्यूड इंजीनियरिंग HQ-40 ड्रोन से मानव के ब्लड सैंपल को एक जगह से दूसरी जगह तक 259 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से अरिजोना के रेगिस्तान में पहुँचाकर सभी को चौक दिया है।

जानकारी मिली है कि वैज्ञानिकों ने लैटीट्यूड इंजीनियरिंग HQ- 40 नाम के ड्रोन की सहायता से 84 सैंपल को एक साथ 122 किलोमीटर की दूरी पर बिल्कुल सही सलामत पहुंच आया है। खास बात यह है कि इस ड्रोन में तापमान को नियंत्रित करने वाला पेलोड सिस्टम भी लगा है जो 3 घंटो तक खून को खराब नहीं होने देगा। वही ड्रोन के साथ अन्य सैंपल्स को ले जाने के लिए एक कार भी लगाई गई है जो एक्टिव कूलिंग सिस्टम की मदद से रखे गए सैंपल को 24.8 डिग्री सेल्सियस से 27.3 डिग्री सेल्सियस पर रखती है।

HQ-40 नाम के ड्रोन का उपयोग उन जगहों पर होता है, जहां सड़क मार्ग से पहुचाने में काफी समय लगता है। वही ट्रैफिक और दूरी को ध्यान में रखते हुए भी इस तकनीकी का उपयोग किया जाता है ड्रोन की मदद से बीमार मरीज का ब्लड टेस्ट और उससे प्राप्त नतीजों के आधार पर जल्द से जल्द इलाज करना संभव हो गया है। जिससे कई जिंदगियां आसानी से बचाई जा सकती हैं।

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment