जानिए दुनिया की एक मात्र ऐसी प्रजाति जो पानी में रहती है

हमारा संसार अजब-गजब जातियां और प्रजातियां से भरा हुआ है। इंसान की बात करें तो इंसानों की कई जनजातियां जंगलों, पहाड़ों ,शहरों और गांवों में रहती हैं। लेकिन क्या कभी आपने सुना है कि एक ऐसी जनजाति भी है। जो पानी में रहती है , जी हां हम जिस जनजाति के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। वह आज भी पानी में रहकर अपना जीवन यापन कर रही है। वैसे कई वैज्ञानिक इस बात का भी दावा करते हैं कि इंसानों की उत्पत्ति पानी से हुई है और कुछ यह भी मानते हैं कि बंदर हमारे पूर्वज है। हम जिस जनजाति की बात कर रहे हैं वह बाडजो नाम की प्रजाति है, जो आधुनिकता के जमाने में खत्म होने के कगार पर है।

पानी में अपना जीवन यापन करने वाली इस विशेष प्रजाति बाडजो को जिप्सी नाम से भी पुकारा जाता है। खास तौर पर यह प्रजाति इंडोनेशिया में पाई जाती है, जो अब धीरे-धीरे खत्म होने की कगार पर आ गई है। बताया जा रहा है कि इस प्रजाति के लोग समुद्र के अंदर ही अपना जीवन बिताते हैं। इन लोगों का ज्यादा से ज्यादा समय हाउसबोट्स में गुजरता है। जहां पर यह आराम से अपना जीवन व्यतीत करते है। आपको बता दें कि इस प्रजाति का मुख्य काम समुद्र में लूटपाट करना और समुद्र से गुजरने वाले जहाजों पर हमला कर उनका माल हथियाना है। दुनिया की एकमात्र ऐसी प्रजाति है जो पानी में रहती है अब धीरे-धीरे खत्म होने की कगार पर इसलिए आ गई है क्योंकि , आधुनिक जहाजों में हमले का जवाब देने के लिए व्यवस्थाएं की गई हैं। जिसके चलते समुद्र में रहने वाले इस जाति के लिए जीवन यापन करना कठिन हो गया है।

इस प्रजाति के लोग ज्यादातर बर्नियो, इंडोनेशिया और फिलीपींस में पाए जाते हैं। वहां पर ये अपनी मर्जी के ही मालिक होते हैं। बहरहाल पानी में जीवन यापन करना अपने आप में एक बहुत बड़ी चुनौती होती है।

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment